स्वप्न दोष से घबराने की ज़रूरत नहीं है। यह समस्‍या अक्‍सर युवाओं में ख़ासकर अविवाहित लोगों में देखने को मिलती है। यह कभी- कभार अतिरिक्‍त वीर्य इकट्ठा होने की वजह से हो जाता है। इसलिए यह कोई रोग नहीं है। कभी-कभार स्‍वप्‍न दोष ‌‌_ Nightfall problem हो तो घबराने की ज़रूरत नहीं है, लेकिन इसकी आवृत्ति कई बार हो या रोज़ हो या तीसरे-चौथे दिन हो तो इसका इलाज ज़रूरी है। चूंकि किशोरों की उम्र हर चीज़ को जानने का आग्रह लिए होती है। किशोर सेक्‍स के बारे में सबसे ज़्यादा अनभिज्ञ होते हैं, इसलिए एक-दूसरे के गुप्‍तांगों के बारे में उनकी उत्‍सुकता बनी रहती है।

आजकल इंटरनेट उनकी जिज्ञासा शांत करने का बेहतरीन साधन बन गया है। वे गुप्‍तांगों के बारे में जान तो लेते हैं लेकिन उसके बाद अति कल्‍पनाशीलता में खो जाते हैं। यदि हमेशा उसी का चिंतन व कल्‍पना किया जाए तो रात को उसी तरह के स्‍वप्‍न आते हैं और स्‍वप्‍न दोष हो सकता है। इसलिए सेक्‍स के बारे में लगातार विचार करना स्वप्न दोष को आमंत्रण देना है। इससे बचना चाहिए। युवाओं को सेक्‍स के बारे में चिंतन करने की अपेक्षा अपना ज़्यादा समय अच्‍छी किताबों को पढ़ने, अच्‍छी फिल्‍में देखने व अपने से ज़्यादा अनुभवी लोगों से बातचीत करने में लगाना चाहिए। इससे मस्तिष्‍क स्‍वस्‍थ रहेगा, जानकारियां व अनुभव हासिल होंगे। साथ ही स्वप्न दोष जैसी समस्‍या भी नहीं आएगी।

स्वप्न दोष
Ayurvedic Nightfall Treatment

स्वप्न दोष से छुटकारा

यहां नीचे स्वप्न दोष से पीड़ित लोगों के लिए कुछ उपाय सुझाए जा रहे हैं। इनमें से कोई एक उपाय स्‍वप्‍न दोष से निजात दिला सकता है। लेकिन इसके साथ ज़रूरी है कि अपनी सोच को बदलें और सकरात्‍मक दिशा में मोड़ें।

– रात को सोते समय हाथ-पैर धो लें और लहसुन की दो कली लें और उसे तोड़कर पानी के साथ निगल जाएं। नियमित प्रयोग से स्‍वप्‍न दोष में राहत मिलेगी।

– नियमित आंवला का मुरब्‍बा खाने से स्वप्न दोष बंद हो जाता है।

– रात को सोते समय शीशे की गिलास में 60 ग्राम पानी भरकर उसमें 20 ग्राम आंवले का पाउडर भिगो दें। 12 घंटे के बाद पानी छानकर उसमें एक ग्राम हल्‍दी मिलाकर पी जाएं, स्‍वप्‍न दोष में लाभ होगा।

– दो केला खाकर ढाई सौ ग्राम गर्म दूध पीयें। यह प्रयोग नियमित तीन माह तक करें। इससे स्‍वप्‍न दोष तो समाप्‍त होगा ही, प्रमेह में भी लाभ मिलता है।

– अनार का छिलका पीसकर सुबह-शाम पांच ग्राम लेने से नाइटफ़ाल की समस्‍या खत्‍म हो जाती है।

– रात को सोते समय सफेद प्‍याज का रस 10 ग्राम, अदरक का रस 8 ग्राम, मधु 5 ग्राम व घी 3 ग्राम मिलाकर पीने से स्‍वप्‍न दोष नहीं होता है।

– पिसी हुई धनिया में मिश्री मिलाकर ठंडे जल से लेने से नाइटफ़ाल से निजात मिलती है।

तुलसी की जड़ पीसकर पानी के साथ पीने से स्‍वप्‍न दोष में राहत मिलती है।

– धनिया पाउडर व पिसी हुई चीनी समान मात्रा में मिलाकर एक चम्‍मच सुबह खाली पेट व रात को सोते समय फांकी लें, उसके बाद एक घंटे तक कुछ भी न खाएं-पियें।

Keywords – Swapn dosh ka upchar, Nightfall homeremedies, Nightfall problem, Nightfall treatment