कहा जाता है कि रोग शरीर में कहीं हो, मुंह में न हो। मुंह में जब छाले पड़ जाते हैं तो खाने-पीने को कौन कहे, थूक तक निगलना मुश्किल हो जाता है। पेट की गर्मी, कब्‍ज़, गैस, असंतुलित आहार आदि से मुंह में छाले पड़ जाते हैं। मुंह में छाले शरीर में पौष्टिकता की कमी से भी होते हैं। आमतौर पर इनके लिए चिकित्‍सक बी कांपलेक्‍स देते हैं। लेकिन कुछ घरेलू उपाय भी हैं जिनसे मुंह के छाले ठीक किए जा सकते हैं।

मुँह के छाले

मुंह के छाले दूर करने के उपाय

– कत्था व मुलेठी का चूर्ण, मधु में मिलाकर लगाने से मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं।

– दूध में हल्‍दी व मूलेठी का चूर्ण मिलाकर पीने से मुंह के छाले में तुरंत आराम मिलता है और धीरे-धीरे छाले ठीक हो जाते हैं।

– सेब का सिरका एक कप पानी में मिलाकर दिन में तीन-चार बार कुल्‍ला करने से मुंह में बनने वाले फ़ंगस कम हो जाते हैं और छाले ठीक होते हैं।

– मुलेठी का चूर्ण मधु में मिलाकर मुंह में लगा लें और मुंह को खोलकर लार बाहर टपकने दें।

– लहसुन का एक-दो जवा मसलकर छाले वाले स्‍थान पर रखने से आराम मिलेगा, हालांकि इस उपचार से थोड़ी जलन होती है। लहसुन का जवा मसलकर सीधे निगल भी सकते हैं। यह इंफ़ेक्‍शन को समाप्‍त कर देता है।

– लाइव एसिडोफ़िलस कल्चर वाली दो चम्मच दही का सेवन करने से मुंह के छाले की जलन कम हो जाती है। विकल्प के रूप में एसिडोफ़िलस पिल्स भी लिया जा सकता है। दो एसिडोफ़िलस कैप्सूल तोड़कर उसकी औषधि को एक चम्‍मच संतरे के जूस में मिलाकर पी लें।

– धनिया व कत्‍था मिलाकर पीस लें और उसमें थोड़ा सा अमलतास का गूदा मिलाकर मुंह में रखें, केवल अमलतास का गूदा भी मुंह में रखने से छाले ख़त्म हो जाते हैं।

मुँह के छाले के अन्य उपचार

– अमरूद का पत्‍ता लें और उसमें कत्‍था मिलाकर पान की तरह चबाएं, छाले ठीक हो जाएंगे।

– एक कप पानी में एक चौथाई चम्मच बोरिक एसिड मिला लें। दिन में दो-तीन बार इससे कुल्‍ला करें। बच्‍चों के लिए इस औषधि का इस्‍तेमाल न करें।

– अडूस के 2-3 पत्तों को चबाकर उनका रस चूसने से मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं।

– नारियल, नारियल का तेल व नारियल का पानी तीनों मुंह के छालों का दर्द कम करते हैं। ताज़ा नारियल को घिसकर छालों के ऊपर लगाने से दर्द कम हो जाता है।

– पानी में फेंटकर हल्‍दी का पाउडर लगाने से दर्द में तुरंत आराम मिलता है।

– एक कप पानी में कुछ मेथी के पत्‍तों को डालकर उबाल लें। ठंडा हो जाने पर इससे दिन में पांच-सात बार गरारा करें। दर्द दूर होने के साथ ही छाले भी सूख जाएंगे।

मुँह में छाले हों तो इन्हें भी आज़माएँ

– लेवेंडर आयल, क्लोव आयल और टी ट्री आयल में एंटी-इंफ़ेक्शन गुण पाया जाता है, इसे लगाने से मुंह के छाले समाप्‍त हो जाते हैं। क्लोव आयल और लेवेंडर आयल किराना की दुकान पर मिल जाता है। किसी एक आयल को लें और उसकी दो बूंद टूथपेस्‍ट में मिलाकर ब्रश करें। मुंह में बने झाग से एक-दो मिनट तक गरारा करें और कुल्‍ला करके मुंह साफ़ कर लें। या इनमें से किसी एक आयल की दो बूंदे पानी में डालकर गरारा करने से भी आराम मिलता है।

– पान के पत्ते को सुखाकर चूर्ण बना लें। उसे मधु में मिलाकर चाटने से छाले ठीक हो जाएंगे।

– देशी घी में पान के पत्‍तों का रस मिलाकर लगाने से छाले ठीक हो जाते हैं।

– सूखे मशरूम को बारीक़ पीस लें और और छालों पर लगा दें, कुछ ही दिन में छाले ठीक हो जाएंगे।

– भोजन करने के बाद गुड़ चूसने या छाछ से कुल्‍ला करने से मुंह के छाले समाप्‍त हो जाते हैं।

– मेंहदी व फिटकरी का चूर्ण लगाने से भी मुंह के छालों में आराम मिलता है।

Keywords – Munh Ke Chhale, मुँह के छाले , मुंह में छाले , मुँह में छाले