अक्‍सर सब्‍ज़ी काटते हुए हाथ कट जाता है या तवे पर रोटी सेंकते हुए हाथ जल जाता है, पकौड़ियाँ छानते वक्‍त तेल गिर जाने से भी कभी हाथ-पैर जल जाते हैं। किसी अन्‍य कारण से भी यदि कहीं कटता या जलता है तो उसकी औषधि आपके घर में ही मौजूद है। आइए बताते हैं जली कटी त्वचा को ठीक करने के घरेलू उपायों के बारे में, ये उपाय पुराने घावों के निशान को भी ख़त्‍म कर देंगे।

जली कटी त्वचा की केयर

जली कटी त्वचा को जल्दी ठीक करें

– विटामिन सी से भरपूर टमाटर व नींबू के रस को मिलाकर लगाने से दाग धब्‍बे ख़त्‍म हो जाते हैं। इसे आधा घंटे के लिए लगा दें। यह प्रयोग नियमित कई दिन तक करें। इससे दाग धब्‍बे तो मिटेंगे ही, त्‍वचा में भी निखार आएगा। इसे चेहरे पर भी लगाया जा सकता है।

जली कटी त्वचा की समस्‍याओं में नींबू अकेले पर्याप्‍त है, इसे चेहरे पर लगाने से मुंहासे आदि खत्‍म हो जाते हैं और चेहरे की चमक बढ़ती है।

– जलने पर बेकिंग सोडा लगाने से तुरंत राहत मिलती है।

– जले हुए स्‍थान को सबसे पहले ठंडे पानी से धो लें। उसके बाद उसपर टमाटर व नींबू का जूस मिलाकर लगा दें और थोड़ी देर छोड़ दें। नियिमित प्रयोग करने से जला हुआ तो ठीक होगा ही, निशान भी नहीं पड़ेंगे।

एलोवेरा में एस्ट्रीजेंट गुण होते हैं। यह त्‍वचा को साफ़ करता है, उसमें चमक लाता है। साथ ही मृत कोशिकाओं को हटा देता है।

– एलोवेरा के जैल में एक चुटकी हल्दी, एक चम्मच मधु, एक चम्मच दूध व कुछ गुलाब जल की कुछ बूंदे डालकर ठीक से मिला लें। इससे भी जला कटा ठीक होता है और निशान खत्‍म होते हैं।

– एलोवेरा में नींबू का रस मिलाकर लगाने से चेहरे से टैन खत्‍म हो जाता है।

– जले हुए स्‍थान पर पुदीना का रस लगाएं, जलन में तुरंत आराम मिलेगा।

– तुरंत जलने पर गुलाब जल, मुल्‍तानी मिट्टी व नींबू का रस मिलाकर लगाने से जलन तुरंत चली जाएगी और धीरे-धीरे घाव ठीक हो जाएगा। इसे लगाने के 5-7 मिनट बाद ठंडे पानी से धो लें, रगड़े नहीं।

– मेथी का दाना रात में पानी में भिगो दें, सुबह उसे पीसकर जले हुए स्‍थान पर लगाएं। एक घंटे बाद धो लें।

– यदि चेहरे पर निशान है तो हल्दी, शहद व गुलाबजल को मिलाकर पेस्‍ट बना लें। चेहरे पर लगाकर 20 मिनट के लिए छोड़ दें। उसके बाद धीरे- धीरे रगड़ कर हटाएं। कुछ ही दिनों में निशान धूमिल हो जाएगा।

– चेहरे की जली कटी त्वचा के दाग मिटाने के लिए दही में एक चुटकी हल्दी व जौ का पाउडर मिला लें और उसमें थोड़ा नींबू का रस डालकर चेहरे पर लगा सकते हैं।

जली कटी त्वचा का उपचार

पुराने निशान कैसे हटाएँ

– जलने का निशान यदि बहुत पुराना है तो मूंग की दाल को कड़ाही या तवे पर खूब भून कर पीस लें और सूती कपड़े से छान लें। नारियल तेल में मिलाकर इसे कुछ दिन नियमित सुबह-शाम लगाएं।

– काली मसूर की दाल को तवे या कड़ाही में भूनकर राख बना लें। इसे नारियल तेल में मिलाकर लगाएं।

– पुराने निशान के लिए आंवला व तिल बराबर-बराबर मात्रा में लेकर दूध के साथ पीस लें। इसमें तीन-चार बूंद गुलाब जल मिलाकर रात को सोते समय जलने के निशान पर लगाएं।

– मूली या प्‍याज का रस भी जले का निशान मिटा देता है।