सर्दियों का मौसम बड़ा मनोहारी और शरीर में शक्ति और ऊर्जा संचित करने का सबसे उचित समय होता है। अगर सर्दियों में खान पान का विशेष ध्यान रखा जाए तो आप अपने आप को हर मौसम के लिए फिट बना सकते हैं।

सर्दियों में आहार

सर्दियों में खान पान

– ठंडी के मौसम में पिंड खजूर का सेवन लाभदायक होता है। इसमें पर्याप्‍त मात्रा में प्रोटीन, वसा व शर्करा होती है। कैल्शियम, लौह तत्‍व, विटामिन ए, बी व सी भी मिलते हैं। पूरी तरह से पके हुए खजूर में 85 प्रतिशत शर्करा होती है। सौ ग्राम के खजूर के सेवन से 283 कैलोरी ऊर्जा प्राप्‍त होती है। इसे दूध में उबालकर पीने से यौन शक्ति बढ़ती है।

– जाड़े में बिनौला व सफेद मूसली का चूर्ण शरीर का विकास करता है। 50 ग्राम बिनौला भूनकर कूटकर चूर्ण बना लें और इसमें 50 ग्राम सफेद मूसली का चूर्ण मिलाकर रख लें। यह चूर्ण सुबह-शाम तीन-तीन ग्राम दूध के साथ सेवन करने से शरीर का विकास होता है।

– एक पाव मालकांगनी लेकर उसे गाय के घी में भून लें और इसमें चीनी मिलाकर चूर्ण बना लें। 6 ग्राम चूर्ण सुबह-शाम गाय के दूध के साथ सेवन करने से शरीर की शक्ति बढ़ती है। इसका सेवन लगभग 40 दिन तक करें।

– देशी घी में बनी एक पाव जलेबियों का सेवन सुबह दूध के साथ नियमित दो-तीन माह तक करने से लंबाई बढ़ती है।

– दूध की मलाई व मिसरी मिलाकर खाने से ताकत बढ़ती है।

– एक बादाम को घिसकर दूध में मिलाकर पीने से शरीर को शक्ति मिलती है।

– शक्तिवर्धन के लिए एक-एक चम्‍मच सफेद मूसली या धोली मूसली का चूर्ण सुबह व रात को सोने से पहले दूध के साथ लेने से लाभ होता है।

सर्दियों में खान पान
Winter’s Diet

जाड़े के मौसम में खान पान

– उड़द का लड्डू सेक्‍स पॉवर में वृद्धि करता है और शरीर को बल मिलता है।

– च्‍यवनप्राश व आंवले का मुरब्‍बा जाड़े में शक्तिवर्धक है।

– सर्दियों में खान पान में फल, सूखे मेवे, चोकर सहित आंटे की रोटी, अंकुरित अनाज का प्रयोग ज्‍यादा करना चाहिए।

– हरी पत्‍तेदार सब्ज्यिों, घी व दूध का सेवन ज्‍यादा करना चाहिए। शाकाहार का सेवन सेक्‍स पॉवर को बढ़ाता है।

– दालचीनी का 2 ग्राम चूर्ण व एक चम्‍मच मधु को एक पाव दूध में मिलाकर पीने से वीर्य में वृद्धि होती है तथा शरीर को बल मिलता है।

– तुलसी के बीज भून लें और समान मात्रा में इसमें गुड़ मिलाकर एक-एक ग्राम की गोली बना लें। गाय के दूध के साथ सुबह-शाम एक-एक गोली खाने से ताकत मिलती है और मर्दानगी बढ़ती है।

– आधा ग्राम तुलसी बीज का चूर्ण कत्‍था लगे या सादे पान के साथ सुबह खाली पेट नियमित खाने से बल, वीर्य व खून की वृद्धि होती है। है।

– तुलसी बीजों का चूर्ण लें और दोगुना क गुड़ मिला लें, इसे चौदह या चालीस दिन खाने से शरीर में शक्ति आती है। इसका प्रयोग जाड़े में करना चाहिए।