समय की विसंगतियों ने हमें अपने बालों के प्रति भी लापरवाह किया है। इससे बालों से संबंधित अनेक तरह की समस्‍याओं ने सिर उठाया है। इसमें सबसे समान समस्‍या बालों का सफेद होना है। युवावस्‍था में ही बाल अपने प्राकृतिक रंग छोड़ने लगते हैं। आज हम बालों की देखभाल करने के लिए घरेलू व प्राकृतिक उपचार बताने जा रहे हैं।

Complete Hair Care Tips in Hindi

1. बालों को काला करने के आसान तरीके

काले बालों का राज़
Grow natural black hair

– एक लोहे के बर्तन में 50 ग्राम आंवला चूर्ण लेकर उसमें थोड़ा सा पानी मिलाकर पेस्‍ट बना दें। एक सप्‍ताह के लिए उसे छोड़ दें। प्रतिदिन इसमें थोड़ा पानी मिलाकर चला दें। एक सप्‍ताह बाद यह पेस्‍ट एकदम काला हो जाएगा। इसे बालों में लगाएं। यदि दो-तीन माह यह प्रयोग किया जाए तो बालों में प्राकृतिक काला रंग आने लगेगा।

– 25-25 ग्राम शिकाकाई और सूखे आंवले को कूटकर रात को सोते समय आधा लीटर पानी में भिगो दें। सुबह शिकाकाई व आंवले को पानी में मसलकर कपड़े से छान लें। इससे सिर की मालिश करें और 15-20 मिनट बाद नहा लें। बाल जब सूख जाएं तो नारियल का तेल लगा लें। यह बालों को लंबा, मुलायम व चमकदार बनाता है तथा लंबे समय तक काला भी रखता है।

– शंखपुष्पी से निर्मित तेल नियमित लगाने से बाल काले हो जाते हैं।

Also Read: Secret Tips to Make Hair Soft & Long

2. झड़ते बालों की देखभाल के उपाय

बालों को झड़ने से बचाएं
Hair fall treatment

– बरगद की जड़ 25 ग्राम, जटामांसी का चूर्ण 25 ग्राम, तिल का तेल 400 मिलीलीटर तथा गिलोय का रस 2 लीटर लेकर एक में मिलाकर धूप में रख दें। पानी सूख जाने पर तेल को छानकर रख लें। इस तेल से मालिश करने पर बालों का झड़ना बंद हो जाता है और बाल उगने लगते हैं।

– समान मात्रा में काला तिल व बरगद की जटा पीसकर बालों में लगाएं। आधा घंटे बाद कंघी से बालों को साफ़ कर इस पर भांगरा और नारियल की गिरी पीसकर लगाएं। कुछ ही दिन में बाल घने व लंबे हो जाएंगे।

– नीम की पत्तियों को पानी में उबालने के बाद पीस लें, इसमें थोड़ा मधु मिलाकर बालों में लगाने से रूसी समाप्‍त हो जाएगी तथा बाल झड़ने बंद हो जाएंगे तथा उनमें चमक आ जाएगी।

– नीम व बेर के पत्‍तों को पानी में पीसकर लगाने से बालों का झड़ना बंद हो जाता है और बाल लंबे होते हैं। बालों की देखभाल के लिए यह पेस्‍ट कम से कम दो-तीन घंटे तक लगाकर छोड़ देना चाहिए, उसके बाद बाल धो लें।

– बालों का झड़ना रोकने के लिए 2 से 6 ग्राम त्रिफला चूर्ण में एक चौथाई ग्राम लौह भस्म मिलाकर सुबह-शाम सेवन करने लाभ होता है।

– दूध या दही में बेसन मिलाकर बालों में लगाने से भी लाभ होता है।

– बालों का झड़ना रोकने के लिए और रूसी को खत्‍म करने के लिए कच्‍चा पपीता पीसकर बालों में लगाना चाहिए।

Also Read: Hindi Tips to Prevent Hair Fall

3. बाल लंबे करने के उपाय

बालों की देखभाल
Long hair care

– दोपहर भोजन के समय काली मिर्च व नमक के साथ मूली का सेवन बालों का रंग साफ़ करता है। कुछ दिन लगातार प्रयोग करने से बाल लंबे हो जाते हैं। मूली जिन्‍हें सूट न करती हो, वे इसका प्रयोग न करें।

– बालों को मुलायम व लंबा करने के लिए सूखा आंवला व सूखी मेंहदी समान मात्रा में मिलाकर रात को पानी में भिगो दें और सुबह इससे बालों को धोएं। इस तरह बालों की देखभाल करने से बाल लम्बे हो जाते हैं।

– तीन लीटर पानी में एक पाव अमरबेल उबालें, जब पानी आधा रह जाए तो उतार लें। सुबह इससे बालों को धोने से बाल लंबे होते हैं।

– आम की दस ग्राम गुठली को आंवला के रस में भिगोकर लगाने से बालों की देखभाल अच्छी होती है और वे लंबे व घुंघराले होते हैं।

– बालों को चमकीला व लंबा करने के लिए गुड़हल के ताले फूलों के रस को समान मात्रा में जैतून के तेल में मिलाकर पकाएं, जब केवल तेल ही बचे तो ठंडा कर शीशी में भर लें। रोज़ नहाने के बाद इसे बालों की जड़ों में मालिश करें।

– 50 ग्राम कलौंजी 1 लीटर पानी में उबाल लें। ठंडा होने पर इससे बालों को धोएं। एक माह में ही बाल काफ़ी लंबे हो जाएंगे।

– समान मात्रा में सीताफल के बीज व बेर के बीज या पत्ते पीसकर लगाने से बाल लंबे हो जाते हैं।

Also Read: Hindi Tips to Grow Healthy & Long Hair

4. बालों को स्वस्थ रखने के उपाय

स्वस्थ बाल
Grow long healthy hair

– बालों की देखभाल और उनको स्‍वस्‍थ रखने के लिए समान मात्रा में गुड़हल के फूल व पत्‍ते लें तथा उन्‍हें पीसकर रात को सोते समय बालों में लगाएं।

– बालों को छोटा कटवा लें, जहाँ बाल न हों वहाँ भांगरा के पत्‍तों का रस लगाने से कुछ ही दिन में बाल उग आते हैं। दो मुंहे बालों व बालों के टूटने में भी यह कारगर है।

– फोलिक एसिड, मैग्नीशियम, सोडियम, जिंक, कॉपर, नियासिन, थियामिन, कैरोटीन आदि पोषक तत्वों से भरपूर मेथी बालों को स्‍वस्‍थ रखने में काफ़ी सहायक है। रूसी होने पर मेदी के दानों का तीन ग्राम चूर्ण पानी में मिलाकर पेस्‍ट बना लें और बालों पर लगाकर आधा घंटे तक छोड़ दें, इसके बाद बाल धो लें। सप्‍ताह में दो-तीन बार ऐसा करने से रूसी से निजात मिल जाती है।

– नारियल व जैतून के तेल समान मात्रा लेकर उसमें कुछ बूंद नींबू का रस मिलाकर बालों में दस मिनट मालिश करें और उसके बाद गर्म तौलिया से सिर को ढक लें। इससे बालों की अनेक समस्‍याओं में लाभ होता है।

– ककड़ी के रस से बालों को धोने से तथा ककड़ी, गाजर, पालक का रस पीने से बाल बढ़ते हैं और नाखून गिरने बंद हो जाते हैं।

Reading Hair Care Tips in Hindi…

– बरगद के पत्‍तों को जलाकर राख बना लें, इसमें से 20 ग्राम राख को 100 ग्राम अलसी के तेल में मिलाकर सिर की मालिश करने से बाल उगने लगते हैं। नियमित तीन माह के प्रयोग से काफ़ी लाभ होता है।

– बालों के सभी रोग दूर करने के लिए बरगद के साफ़ कोमल पत्तों के रस में समान मात्रा में सरसों का तेल मिलाकर गर्म कर लें, इसे बालों में लगाएं।

– नए बाल उगाने के लिए लहसुन का रस लगाना भी लाभकारी है।

– गुड़हल के पत्तों को पीसकर नहाने के दो घंटे पहले बालों में ठीक से लगा लें। यह बालों को पोषण देता है और मस्तिष्‍क को ठंडा करता है।

– बालों को सिल्‍की, चमकदार व रूसी मुक्‍त करने के लिए रीठा, आंवला व शिकाकाई मिलाकर धोना चाहिए।

Also Read: Hindi Tips to Get Tangled Free Hair

5. सफेद होते बालों की देखभाल के उपाय

White grey hair
White grey hair

– भांगरा के रस में त्रिफला चूर्ण को उबालें, तीन उबाल आ जाने पर उसे सुखाकर पीस लें। प्रतिदिन सुबह दो ग्राम तक सेवन करने से बाल सफेद होना बंद हो जाते हैं और आंखों की रोशनी बढ़ती है।

– आंवला को दरदरा पीस लें और चीनी मिट्टी के प्‍याले में रखकर भांगरा का रस इतना डालें के आवंला डूब जाए। इसे खरल कर सुखा लें। इसी प्रकार भांगरा के रस में आंवलों को सात उबाल देकर सूख जाने पर पीसकर रखा जा सकता है। प्रतिदिन तीन ग्राम चूर्ण ताजा पानी के साथ लेने से बालों का सफेद होना बंद हो जाता है और आंखों की रोशनी बढ़ती है।

– नागरमोथा व कपूर कचरी 100-100 ग्राम, कपूर व रीठा फल की गिरी 40-40 ग्राम, शिकाकाई 250 ग्राम व आंवला 200 ग्राम मिलाकर चूर्ण बना लें। इसमें से 50 ग्राम चूर्ण पानी में मिलाकर पेस्‍ट बनाकर बालों में लगाएं और कुछ देर बार गर्म पानी से बाल धो लें, इससे जूं व लीखें मर जाती हैं तथा बाल घने, लंबे व मुलायम होते हैं।

– करेले का गाढ़ा रस असमय सफेद हो रहे बालों को रोकता है। इसे नियमित दस दिन बालों पर लगाने से काफ़ी लाभ होता है।